WordPress के साथ 13 steps में Blog बनाएँ – Full Guide

Science और Technology के बेहतरीन combination ने आज दुनिया भर के प्लेटफॉर्म से मिलने वाली शानदार opportunity को सभी के लिए खोल दिया है फिर चाहे हो आम हो या खास, दोस्तों आज के अपने इस अंक में हम आपसे online प्लेटफॉर्म पर मौजूद इसी में से एक blogging opportunity के बारे में विस्तार से बात करेंगे साथ ही ये भी बताएँगे कि कैसे आप WordPress पर blogging करके अपने experiences और knowledge को दूसरों के साथ एक effective manner में share कर सकते हैं।

WordPress पर आपके blog creation की इस journey में आपको अपने इस दोस्त के experiences, tips और tricks का साथ निश्चित तौर पर मिलेगा, तो आइये WordPress पर blog creation की इस journey को शुरू करें।

क्रमबद्ध सूची hide

किसी Topic के बारे में सोचें

आपका blog किस बारे में होना चाहिए? क्या आपके पास पहले से ही एक suitable नाम है? इससे पहले कि आप अपना blog बनाये, यह निश्चित रूप से आपकी मदद करेगा यदि आप पहले से इन सवालों का जवाब देते हैं।

शायद आप एक certain topic के बारे में सोच रहे हैं जो आपके दिमाग में कुछ समय से है और finally आप कुछ शुरू करना चाहते हैं। यदि ऐसा नहीं है तो भी कोई problem नहीं है। एक paper और pen अपने हाथों में ले लीजिये और अब कुछ brainstorm करना शुरू करें।

जब बात blogging की आती है, तो आप अब कह सकते हैं कि niche sites के बहुत सारे फायदे होते हैं – खासकर जब travel sector का एक blog हो। जब आप एक niche आर्टिकल लिखते हैं, आप के पास किसी destination या किसी travel के type के बारे में in-depth knowledge (expert status) develop हो जाती है। यह natural रूप से दूसरे subject areas पर भी लागू होता है।

अपना niche खोजने के लिए, आप खुद से ये तीन questions पूछ सकते हैं:

  • 1. किस area में आपके friends आपसे अक्सर सलाह लेते हैं (जैसे nutrition, कॉफी, image processing, cosmetics, कोई खेल या tech gadgets)?
  • 2. आप अपने free time में, भले ही थोड़ी देर के लिए, क्या करना पसंद करते हैं? आपके शौक(hobbies) (जैसे travel, योग, dream catchers या ट्रायथलॉन) क्या हैं?
  • 3. क्या आपको अपने जीवन में अक्सर एक निश्चित problem को face करना पड़ता है (उदाहरण के लिए पीठ दर्द, बालों की जकड़न, बालों का झड़ना, नींद न आना, depression, migraines, आदि)।

ऊपर दिये गए questions आपको आपके potential niche blog विषय के करीब ला सकते हैं।

लेकिन: एक niche एक रिश्ते की तरह होता है। एक बार जब आप एक निश्चित topic पर फैसला कर लेते हैं, तो आप इससे इतनी जल्दी बाहर नहीं निकलेंगे। आप कई सालों तक इस topic में interested रहते हैं या नहीं, यह जाने बिना ही आप अपने आप को एक topic के लिए commit कर लेते हैं।

यदि आप अपने आप को एक niche के साथ commit नहीं करना चाहते हैं, तो आप निश्चित रूप से हमेशा एक अधिक open topic को tackle कर सकते हैं और शायद एक निश्चित topic समय के साथ आपके लिए चमकदार हो सकता है।

ऐसा हमारे साथ था:

2010 से 2013 तक मैंने काफी समय Agra में बिताया। तब मैं वहां पढाई करता था और किराये के मकान में रहता था, अपना bachelor thesis site पर लिखा, उस शहर की हर चीज़ के बारे में लिखता था, Monuments, संस्कृति, खान पान आदि।

मैं आगरा के red fort में फोटो खिंचवाते हुए 🤣

Agra के tips जो दोस्तों ने दिया थे वो अधिक से अधिक questions के रूप में याद आ रहे थे। उस समय, Agra के बारे में बताने वाली शायद ही कोई website थी। मुझे जल्दी ही पता चला: Agra के बारे में एक blog बहुत मायने रखेगा और इस city के लिए मेरा प्यार लंबे समय तक बना रहेगा।

Blog के लिए नाम Decide कर लें

अपने नाम के लिए आपको बहुत सारे नामों के विकल्प को लिखना एक अच्छा तरीका है। क्योंकि इसकी भी possibility है कि जो blog नाम आप ने सोचा है वो पहले ही किसे और blogger के द्वारा ले लिया गया हो।

आप जितना creative और imaginative अपने नाम के साथ होंगे, उतना ही अधिक chance है कि वो नाम अभी तक किसी और द्वारा 21नहीं लिया गया हो।
आप द्वारा चुना गया topic जितना open होगा, आपको नाम खोजने के लिए उतना अधिक abstract approach लेना पड़ सकता है। जैसे “onastore.in” नाम के साथ हम पहले ही एक topic (या niche) पर clearly फैसला कर चुके हैं।

अपनी जेब में कुछ नाम के ideas के साथ, आप वास्तव में अपना पहला blog शुरू करने के लिए तैयार हैं।

यह check करने के लिए कि क्या कोई blog name अभी भी available है यानि domain (जैसे namecheap.com) के रूप में मौजूद है, आप Namecheck जैसे tool का use कर सकते हैं।

वहां आपको बस अपना मनचाहा नाम enter करना हैं और ये tool आपके लिए free में validate करेगा कि domain जो .com, .org से end हो रहे हैं वो अभी भी उपलब्ध हैं। यह आपको दिखाता है कि क्या और किस सोशल मीडिया पर आपके द्वारा चाहा गया username पहले से ही लिया गया है।

Domain extension उतना जरूरी नहीं है। लेकिन .in (India के लिए), .com या .net के साथ भी आप निश्चित रूप से कुछ गलत नहीं कर रहे हैं।

हाल ही में कुछ नए domain extensions मौजूद हुए है। उदाहरण के लिए जो शामिल किए गए हैं वो .blog या .place हैं। ये आपके interest के हिसाब से हो सकते हैं।

इस बात पर ध्यान दें कि नाम चुनते समय आप किसी भी मौजूदा नाम या ट्रेडमार्क rights का उल्लंघन (violation) न करें। उदाहरण के लिए, आप अपने blog को adidasshoes.com या nutellaishere.com या ऐसा ना चुन लें। क्योंकि Adidas और Nutella ट्रेडमार्क law द्वारा protected ट्रेडमार्क हैं।

नोट: बेशक, अपने blog को बाद में एक नए domain (जैसे onastore.in से storeona.com पर) एक नए नाम के साथ फिर से ले जाना संभव है, लेकिन कुछ technical बारीकियों को अवश्य देखा जाना चाहिए जिससे आप कम से कम उतने visitors और backlinks पा सकें जितने खोना संभव है। लेकिन इसके बारे में हम ज्यादा बातें बाद में करेंगे।

Blog बनाएँ: Checklist blog / Domain name

  • इसे छोटा रखें (लंबे नाम popular नहीं हैं और उन्हें याद रखना कठिन है)
  • एक domain में सिर्फ lowercase letters होते हैं
  • एक underscore के साथ शुरू होने वाला domain नाम prohibited है। अपने blog का नाम एक letter के साथ शुरू करें, आप इसे एक number से भी शुरू कर सकते हैं अगर इससे खुश हैं
  • किसी भी नाम या ट्रेडमार्क rights का violation मत करिए
  • आप द्वारा चुना गया नाम पहले से ही नहीं लिया गया है, इसे आप Namecheck या इस तरह के अन्य tools से check कर लें

अपने domain को register करें और एक hosting पैकेज लें

इसके बाद, आपको अपने blog का नाम एक domain के रूप में register करना होगा और एक hosting पैकेज लेना होगा। आप आमतौर पर एक provider के माध्यम से सीधे ये दोनों काम कर सकते हैं। इसके लिए आपके पास लगभग 5 dollar per month उपलब्ध होना चाहिए।

बेशक, आपके पास free offer को use करने का option भी मौजूद है। wordpress.com, tumblr.com और blogger.com जैसे provider इसे संभव बनाते हैं।

लेकिन अगर आप अपने blog का use केवल यह बताने के लिए नहीं करना चाहते हैं कि आपकी पिछली कॉफी का स्वाद कितना अच्छा है, तो आपको ऐसी services का use नहीं करना चाहिए। Medium term में, ये आपको और आपके blog को अधिक limit कर सकते हैं और आप पूरी तरह से इन पर depend हो जाते हैं। मैंने भी अपना पहला blog myspace पर शुरू किया था जब लेकिन एक दिन अचानक बहुत short notice पर इसे बंद दिया गया था।

onastore.in का अपना खुद का web hosting provider (digitalocean) है और free CMS (Content Management System) WordPress.org का use करता है। आप इसे सिर्फ कुछ clicks (कम से कम all-inclusive और कुछ अन्य providers के साथ) के साथ आसानी से install कर सकते हैं।

और चिंता न करें: आप किसी भी समय अपने web hosting प्रदाता को बदल सकते हैं!

Important: WordPress.org और wordpress.com में अंतर मालूम होना चाहिए

  • WordPress.org website (मेरा recommendation!)
  • WordPress.com website

सोशल मीडिया पर अपना नाम reserve करें

अपना domain register करने के बाद, आप अपने blog का नाम सोशल मीडिया पर reserve कर सकते हैं – इससे पहले कि कोई और इसे कर ले।

बस उन channels को चुनें जो आपके लिए suitable हों। यदि उनमें से कोई पहले से ही occupied है, तो इसमें कुछ बुराई नहीं है।

आप अभी भी एक additional abbreviation या अपने नामे के साथ जोड़े गए “blog” के साथ एक suitable username (जैसे कोई domain जो .com से end होता है) secure कर सकते हैं।

उदाहरण के लिए, onastore Facebook, Instagram और Pintrest हर जगह पर आप एक ही नाम से register कर सकते हैं।

Instagram पर name change की समस्या: जैसे ही आप अपना नाम बदलते हैं, आप अपने links खो देते हैं, क्योंकि Instagram पर कोई forwarding नहीं है (अभी तक)।

यदि आप सोशल मीडिया के बारे में नहीं सोचते हैं, तो यह ठीक है। आखिरकार, आपको हमेशा अपने आप से पूछना होगा कि क्या ये मेरे effort के लायक है, क्या इसका कोई मतलब है और क्या आप अपना data विभिन्न चैनलों के साथ साझा करना चाहते हैं।

सोशल मीडिया के फायदे

  • Additional visitors के साथ जुड़ने का source
  • Photos share करने के लिए बहुत useful है
  • कई दोस्त / परिवार / जानने वाले सोशल मीडिया का use करते हैं
  • अन्य blogर्स के साथ नेटवर्क बन सकता है
  • जब आपके पास book जैसा अपना कोई product होता है तो ज्यादा exciting बन जाता है
  • कंपनियों के साथ cooperation के लिए दिलचस्प

सोशल मीडिया के नुकसान

  • इसके maintenance के लिए काफी समय देना होगा
  • Data protection कुछ हद तक questionable है
  • इसकी लत लगने का काफी potential है
  • Content को सोशल मीडिया provider control करता है
  • Account/ Service किसी भी समय बंद की जा सकती है

WordPress को install और setup करें

WordPress के बारे में अच्छी बात यह है कि आप अपने ideas के अनुसार अपने blog को अच्छी तरह design कर सकते हैं।

अपने blog (= Theme) के लिए एक अच्छा layout चुनने के विकल्प के अलावा, आप अपने website को additional functions (जैसे automatic बैक-अप, sliders, newsletter registration और बहुत कुछ) यानि plugins के साथ भी expand कर सकते हैं।

दूसरे मुफ्त blogger tool के साथ, आप अपने limit तक जल्दी पहुँच जाएंगे, विशेष रूप से plugins और additional functionalities को add करने के लिए।

हालाँकि, आपको WordPress की आदत डालने में थोड़ा समय देना पड़ सकता है। इंटरनेट पर ऐसा करने के बहुत सारे तरीके हैं जो WordPress के साथ start करना बहुत असान बनाते हैं।

यदि आप शुरू में एक से दो घंटे देते हैं, तो आपको जल्द ही WordPress की basic understanding possibilities की समझ मिल जाएगी।

संसाधन (Resources)

  • Kindle E-Book: अमेज़न पर अपना पहला WordPress blog (प्रत्येक स्टेप की जानकारी के साथ) बनाएं
  • Udemy Courses: Udemy के पास कुछ अच्छे blogging courses मौजूद हैं जो अक्सर कम कीमत के साथ मिल सकते हैं

WordPress को install करने के कई तरीके हैं। सबसे आसान ये तब हो जाता है जब आपका host इसे 1-click installation के साथ offer करता है। फिर आप आमतौर पर कुछ मिनटों में शुरू करने के लिए तैयार हो जाते हैं।

अपने WordPress blog के administration के लिए आप installation के बाद लॉगिन करें, जिससे नए पोस्ट लिख सकें और साथ ही बहुत कुछ और भी www.yourdomainname.com/wp-login.php पर कर सकें। अंत में, आप अपना domain नाम लेते हैं और अंत में “/wp-login.php” add करते हैं। यहाँ आप उस data के साथ access करते हैं, जिसे आपने 1-click installation के दौरान डाला था। फिर इसकी journey शुरू हो जाती है।

उदाहरण के लिए, अपने web host के admin interface में 1-click installation के साथ, WordPress install करें

अपने domain पर WordPress में लॉग इन करें (www.yourdomainname.com/wp-login.php)

आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है अगर शुरू में आपकी website शानदार नहीं दिखती है। एक कोई अन्य WordPress theme को install करके तुरंत बदला जा सकता है।

इसे करने के लिए आप बस Menu Item >>Design >> Themes>> Add जाएँ। आपको Themeforest पर बहुत सारे free और premium paid themes मिल सकते हैं।

उदाहरण के लिए, GeneratePress theme की मदद से आप पूरी website को, बस कुछ ही clicks के साथ demo content में डाल सकते हैं।

Plugins के अंदर आप नए plugins को install कर सकते हैं और अपने WordPress blog को additional functions के साथ expand भी कर सकते हैं।

आप अपना पहला blog पोस्ट >> Posts >> Create के अंदर बना सकते हैं।

Actually, आप अब शुरु कर सकते हैं और धीरे-धीरे WordPress के दूसरे possibilities को explore कर सकते हैं। क्योंकि इसका नाम ऐसा ही है?

एक blog बनाएँ: WordPress setup करने के लिए additional steps

  • आपके blog के बारे में सामान्य जानकारी (>>Settings >>General)
  • Navigation मेनू बनाएँ (>>Design >>Menu पर click करें)
  • Blog पोस्टों के बगल में मौजूद sidebars में बॉक्स बदलें (= Widgets, >> Design >> Widgets पर जाएँ)
  • लिंक structure बदलें (>> Settings >>Permalinks के साथ “Post name” चयन करने के recommendation के साथ; जैसे कि https://yourdomainname.com/earnmoney/)
  • होम पेज पर blog या पेज दिखाएं? (>>Settings >> Read)

आपके blog की functionality को expand करने के लिए उपयोगी plugins

अब WordPress के लिए 50,000 से अधिक plugins हैं जो आप अपने blog में useful additional functions को add करने के लिए उपयोग कर सकते हैं।

हालांकि, सभी plugins सुरक्षित नहीं हैं और EU (GDPR) के data protection regulations का पालन करते हैं। इसलिए, आपको बहुत ज्यादा plugins को install नहीं करना चाहिए।

इसके अलावा, जैसे ही plugins की संख्या बढ़ती है, आपकी website slow हो जाती है (loading का समय) और इसमें errors की संभावना बढ़ जाती है, उदाहरण के लिए, दो plugins जो synchronize नहीं करते हैं और इससे उदाहरण के लिए आपकी site destroy हो सकती है।

फिर भी, बेशक, plugins ही हैं जो WordPress को इतना आकर्षक बनाते हैं। क्योंकि बिना ज्यादा programming जानकारी के भी आप ऑनलाइन शॉप, additional बैकअप सिस्टम, automatic Table of Contents, अमेज़न के लिए automatic अपडेट की गई कीमतों के साथ product boxes और भी बहुत कुछ का extensions implement कर सकते हैं।

एक मायने में, आप हर additional plugins के साथ समझौता करते हैं। आप नए functions बहुत ही आसानी से पा सकते हैं, लेकिन आपको यह स्वीकार करना होगा कि आपकी site थोड़ी slow हो जाएगी साथ ही कि plugin एक security issue हो सकता है। बदले में, आप एक web developer के cost को बचाते हैं और एक ऐसा interface पाते हैं जिसके साथ बिना किसी अन्य की मदद लिए आप ऑनलाइन content डाल सकते हैं।

एक blog जिसे आप मुख्य रूप से अपने लिए चलाते हैं, उसके लिए मेरे समझ से इसमें कोई समस्या नहीं है। ये हमेशा से बेहतर और मजेदार है कि आप खुद से इसे बेहतर बनाएँ वो भी बिना ज्यादा लागत के ना कि हर छोटी-बड़ी चीज के लिए अपने wallet को देखें और दूसरों पर निर्भर रहें।

बेशक, अगर आप sensitive customer data के साथ एक नया ऑनलाइन बैंक खोलना चाहते हैं या नए Facebook पर काम कर रहे हैं, तो आपको निश्चित तौर पर WordPress और किसी भी plugins का उपयोग नहीं करना चाहिए।

इस point पर मैं आपको कुछ blogger plugins से परिचित कराना चाहूंगा, जिसकी मदद से मैं अबतक की अपनी सारी जरूरतों को पूरा कर पा रहा हूँ:

Table of Contents Plus– खुद से Table of contents बनाने के लिए
Yoast SEO – Plugin SEO में मदद करता है
TablePress – attractive Table बनाने के लिए plugin
Classic Editor – Gutenberg Editor को को deactivate करता है और पेजों/ पोस्टों के लिए Classic Editor को activate करता है
All In One WP Security & Firewall – अपने WordPress installation के लिए additional security विशेषताओं के लिए User-friendly solution
WooCommerce – WordPress के लिए ऑनलाइन शॉप सिस्टम

चूंकि WordPress का theme खुद ही endless है और कई अलग-अलग ideas या problems पैदा हो सकती हैं, इसलिए मैं यहां और गहराई में नहीं जाना चाहता। इस आर्टिकल को नहीं तो एक किताब बनने से कोई नहीं रोक पाएगा।

E-Book: एक WordPress blog बनाएँ

यदि आप Kindle बहुत ज्यादा इस्तेमाल करते हैं और कम कीमत पर अपने पहले WordPress blog के लिए instructions ढूंढ रहे हैं, तो आप अब Kindle shop में कुछ बहुत अच्छी E-Book पा सकते हैं।

WordPress theme के लिए GeneratePress का उपयोग कर सकते हैं, जो WordPress से free में उपलब्ध है। यदि आपको कुछ additional विशेताओं की जरूरत होती है या कुछ ही clicks के साथ एक पूरी demo website को import करना चाहते हैं जिसमें पहले से ही customization के लिए content मौजूद हैं तो इसके साथ आपको premium extension भी सहायता के साथ इस्तेमाल मिल सकता है। यह बहुत सारी चीजों को आसान बनाता है, लेकिन पूरी तरह से optional है।

इसके साथ ही आपको इसमें WordPress के backgrounds और concepts भी समझाए गए हैं, ताकि आप निश्चित रूप से WordPress दुनिया के कुछ अच्छे basics समझ सकें। सभी कुछ सरल और understandable language में लिखा है, इसलिए आपको एक technology geek होना जरूरी नहीं है।

Legal Matters का ध्यान रखें (Imprints / प्राइवेसी पॉलिसी)

इसके अलावा, ज्यादातर मामलों में आपके blog को एक imprint और प्राइवेसी पॉलिसी की आवश्यकता होती है। आप इसे एक जनरेटर जैसे eRecht24 या Dr. Let Pan generate के साथ पा सकते हैं।

फिर आप अपने blog के एक नए पेज के रूप में create किया गया टेक्स्ट डालें (>>Page >> Create)।
आपके पेज के publish हो जाने के बाद, आपको अब इन्हें अपने blog पर दिखलाना होगा। इसका मतलब है कि आप इन्हें अपने मेनू (>> Design >>Menu) में add कर सकते हैं या उन्हें footer (आपके blog का निचला भाग) में भी शामिल कर सकते हैं।

दुर्भाग्य से, नए जनरल डेटा प्रोटेक्शन रेगुलेशन (GDPR) ने नए / छोटे ब्लॉगों के लिए entry barrier को और मुश्किल बना दिया है। खासकर, चूंकि अभी भी कई ऐसे questions हैं जिनका answers नहीं मिल सका है। हालांकि, मुझे लगता है कि अगले कुछ महीनों में इसकी clarity आ जाएगी और कुछ reliable sources में adjustments को बहुत अच्छी तरह से समझाया जाएगा।

शुरू करें, आर्टिकल लिखें और खुद को educate करें

आपके द्वारा बनाए गए blog के basic विशेषताओं के लागू होने के बाद, असली काम शुरू होता है: आर्टिकल को लगन से लिखें और अपने blog में अच्छे कंटेन्ट डालें। ऐसा करने के लिए, आप एक editorial plan सेट कर सकते हैं जहां आप आर्टिकल के ideas को collect कर सकते हैं।

दुर्भाग्य से, 50 वां आर्टिकल लिखते-लिखते अधिकतर blog खराब हो जाते हैं। यदि आपने कोई ऐसा topic चुना है जो आपको पसंद है और आपको लिखने में अच्छा लगता है, तो उम्मीद बहुत अच्छी है कि आप इस mark को crack कर सकते हैं।

Ultimately, हालांकि, यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपके blog के लिए आपकी क्या उम्मीदें हैं। यदि आप परिवार और दोस्तों के साथ विदेश में अपने वर्ष के कुछ experience share करना चाहते हैं, तो यह उतना जरूरी नहीं है।

क्या आप अपने blog को पसंद करेंगे कि वो एक सफल ऑनलाइन मीडिया (या blog बिजनेस) में बदल जाए तो फिर शायद इसके साथ आप कुछ पैसे कमा सकते हैं। फिर आपको इसके साथ दृढ़ता(perseverance) के साथ बने रहना होगा।

क्योंकि आप कुछ हफ्तों या महीनों में blog के साथ सफल नहीं होंगे। मुझे अपने blog को सफल बनने में लगभग दो साल लग गए – और मुझे अपनी जीविका चालने के लिए बहुत कुछ की जरूरत नहीं है क्योंकि मैं बहुत कम में जीने वाला हूं।

लेकिन यदि आप regularly popular topics पर आर्टिकल लिखते हैं और आप लगातार topics जैसे better writing, search engine, SEO, blog monetization आदि के बारे में भी सीख रहे हैं, तो आपका blog आज भी सफल हो सकता है

मेरे लिए, यह किस्मत से हुआ, क्योंकि मुझे मेरे articles पर बहुत सारे positive feedback मिले, खासकर शुरुआत में। इससे मुझे नए articles लिखने में motivation मिला। कुछ points पर मैं onastore.in blog को optimize करने के लिए दूसरे topics भी देखता हूं।

इसके अलावा blog से संबंधित दूसरे topics पर ऑनलाइन courses के लिए Udemy एक अच्छी जगह है – सोशल मीडिया के जरिये SEO से image processing तक। गाइड के रूप में दूसरे courses की रेटिंग का जरूर इस्तेमाल करें:

गेस्ट आर्टिकल लिखें

यदि आपका blog पहले से ही आकार ले चुका है और आपने पहले आर्टिकल को publish कर दिया है, तो आप कुछ “आगे बढ़ने” को सोच सकते हैं। इसी तरह से आप अपने blog को दुनिया में पहचान दिला सकते हैं

एक संभावना यह है कि दूसरे उचित रूप से उपयुक्त blog, website, ट्रैवल प्रोवाइडर आदि के लिए गेस्ट आर्टिकल लिखें

Arrangement के अनुसार, आप अपना और अपने blog का brief introduction शुरू में या अंत में दे सकते हैं और आपको अपने पेज का भी link डाल सकते हैं।

सोशल मीडिया चैनलों का उपयोग करें

यदि आपने अपने नाम को सोशल मीडिया चैनलों में save कर लिया है, तो आप अपने blog पोस्ट और additional external जानकारी को अपने niche से वहां से promote कर सकते हैं

इस तरह आप धीरे-धीरे अपने blog के लिए अधिक followers और visitors इकट्ठा कर लेंगे।

Facebook, Instagram और YouTube में अब कुछ ऐसे influencers मौजूद हैं जो आपके blog के लिए ये काम बिना उनके blog के मौजूदगी के भी कर सकते हैं। यह संभव है, लेकिन मुझे उन मामलों के बारे में भी पता है जहां ऐसे यूजर्स का अकाउंट usage की शर्तों का violation के कारण block कर दिया गया था। सबसे खराब स्थिति में, कई वर्षों के काम या मेहनत चली जाती है और आपको इसे शुरू से करना होता है। ये तभी आपके लिए useful है जब आप केवल एक ही प्लेटफॉर्म पर निर्भर नहीं हैं।

Supplement के रूप में और ज्यादा पहुंच पाने के लिए, सोशल मीडिया निश्चित रूप से बढ़िया है। यदि आपके पास उचित संख्या में followers हैं, तो आप शायद book publishing, press trips या विज्ञापन सहयोगों के लिए भी दिलचस्पी दिखाएंगे।

SEO (Search Engine Optimization) operate करें

लगभग हर इंटरनेट यूज़र्स Google या Bing जैसे सर्च इंजन पर जानकारी खोजता है। वह जितनी तेजी से relevant जानकारी पाता है, उतना ही अच्छा होता है। सभी सर्च इंजन वास्तव में इस principle का उपयोग करते हैं और इसके लिए sophisticated algorithm बनाए हैं।

आपके आर्टिक्ल्स पर ध्यान देने के लिए, आपको कुछ guidelines का पालन करना चाहिए (उदाहरण Google guidelines guide)। तो आपके articles search queries में ऊपर आ सकते हैं।

कई experts के साथ एक सच्चे pseudo-science का विकास इस टॉपिक के लिए हुआ है। क्योंकि कुछ एजेंसियां ​​और सलाहकार advertisement करते हैं कि थोड़े समय में ही वो आपकी website को Google के 1st पेज पर दिखा सकते हैं । कभी-कभी बहुत सारे ट्रिक्स का इस्तेमाल भी किया जाता है जो जरूरी नहीं कि ज्यादा समय तक काम करे

अंत में, Google का algorithm छिपा हुआ रहता है और काफी हद तक इसका अनुमान लगाया जाता है। इसका मतलब है कि आपका पहला संपर्क Google की guidelines होनी चाहिए, न कि आपको दूसरे लोगों पर विश्वास करना चाहिए।

शुरुआत में, उदाहरण के लिए, आर्टिकल के अंत में कई बार font size 1 और white font में relevant सर्च शब्द को डाल के Google पर पहले स्थान पर किसी blog पोस्ट / पेज पाना संभव था (“keyword stuffing“)। उदाहरण के लिए, Google ने इसके लिए एक अपडेट जारी किया और affected पेजों को punish भी किया।

यदि आप अब सोचें कि किसी समय पर आपने किसी एजेंसी को बहुत अधिक पैसा दिया हो और फिर उस SEO एजेंसी की इस questionable practice की वजह से आपको काफी नुकसान उठाना पड़ा हो, तो निश्चित रूप से यह बहुत annoying है। बेशक, यह सभी एजेंसियों पर लागू नहीं होता है, लेकिन black sheep हर जगह पर मौजूद है। Keyword stuffing किसी समय पर बहुत लोकप्रिय थी।

WordPress बहुत सारे SEO plugins (उदाहरण: Yoast SEO Plugin) प्रदान करता है जो Google के guidelines के अनुसार हैं। वहां आप सर्च करने वाले शब्द को डालें जिसके लिए आप अपना आर्टिकल लिखना चाहते हैं, और plugins आपको SEO के बारे में सुझाव देगा।

हम Udemy से बहुत सारे courses को भी recommend करते हैं।

आप Google Keyword Planner या Google Trends में मौजूद keywords को articles के लिए सर्च कर सकते हैं।

पैसे वाली blog बनाएँ

ऐसे कई तरीके हैं जो आपको blog से सीधे या विपरीत तरीके से पैसे कमाने का मौका देते हैं। यह रातोंरात नहीं होता है, लेकिन इसमें बहुत अधिक ऊर्जा और सच्चाई है। क्योंकि सिर्फ जब आप अपने readers को ऐसा कंटेन्ट देते हैं जो सच्चाई में उनके लिए कुछ value add करता है तभी आप अपने blog के साथ कुछ कमा सकते हैं

किसी भी मामले में, शुरुआत के लिए आपकी उम्मीदें बहुत अधिक नहीं होनी चाहिए।

Experts यहां तक ​​कहते हैं कि blogging एक बिजनेस नहीं है – यह आपके products और services के लिए एक marketing चैनल है।

यदि आपने अपने blog के माध्यम से एक अच्छा level हासिल कर लिया है, तो आप उदाहरण के लिए, अपने product जैसे ट्रैवल गाइड, जो आप खरीद सकते हैं, introduce कर सकते हैं। आप अपने blog से सीधे तरीके से पैसा नहीं कमाते हैं, लेकिन विपरीत तरीके से कमाते हैं – क्योंकि आप अपने blog के साथ दूसरे services का advertisement कर सकते हैं।

एक तरह से, वह सही है। अंत में, हालांकि, यह definition ही है कि आप वास्तव में blog बिजनेस को कैसे समझते हैं और क्या आप वहां मौजूद products आदि को subordinate करते हैं या उन्हें एक additional services के रूप में देखते हैं।

इसके अलावा, आपका blog सिर्फ बाहरी दुनिया के लिए आपका बिजनेस कार्ड हो सकता है। उदाहरण के लिए, अपने blog, के माध्यम से आप, बुक contracts, ऑनलाइन मैगज़ीन या मैगज़ीनों के लिए ऑर्डर प्राप्त कर सकते हैं, एक कंपनी के रूप में आपके blog के माध्यम से आपकी तस्वीरों और आपके शब्दों की quality की बेहतर जांच कर सकते हैं।

विभिन्न तरीकों की एक पूरी बुक इसके बारे में लिखी जा सकती है जिनका उपयोग करके आप इसके साथ पैसा कमा सकते हैं। इसलिए मैं यहां सबसे जरूरी चीजों को collect करना चाहता हूं:

  • Advertising बैनर
  • एफ़िलिएट लिंक्स / Advertising लिंक्स / पार्टनर लिंक्स
  • खुद की किताबें / e-books
  • ऑनलाइन courses
  • Donate (उदाहरण: मुझे प्रत्येक donations के लिए एक कॉफी दे)
  • Paid contributions / sponsored पोस्ट
  • लिंक सेल्स
  • प्रोडक्ट परिचय / परीक्षण
  • प्रेस ट्रिप्स
  • ट्रैवल, Accommodation, फ्लाइट्स, restaurants आदि में सहयोग
  • अपने खुद के physical प्रोडक्ट को बेचें
  • दूसरों के लिए trips organize करें
  • फोटो बेचें
  • प्रोडक्ट प्लेसमेंट
  • कोचिंग दें

Blogger की जिम्मेदारी याद रखें

हालांकि यह आखिरी चीज हो सकती है, जिसे आपको blogging करते समय सोचना चाहिए। लेकिन आपके blog की पहुँच और visitors की बढ़त के साथ, आपकी जिम्मेदारियाँ भी बढ़ जाती हैं।

ऐसा नहीं है कि बिना किसी कारण के Influencer शब्द लोकप्रिय हो गया है। क्योंकि आप यात्रा या किसी चीज़ के बारे में पूरी तरह से अलग कैसे लिखते हैं, उसके बारे में कितनी positively या negatively आप रिपोर्ट करते हैं, यह सब आपके readers को किसी न किसी तरह से प्रभावित करता है।

मैंने पहले से ही उन thoughts पर चर्चा की है जो कई दूसरे आर्टिकल्स, newsletters या सोशल मीडिया पोस्ट में किसी समय पर आपके ध्यान को आकर्षित कर सकते हैं।

Blogging कोई physical वस्तु नहीं है?

आप blog क्यों करते हैं? क्या आप अपने blog से जीविका चलाना चाहते हैं? फिर blogging की शुरुआत देखें – शायद पहले दो से तीन साल – एक university में पढ़ने की तरह होगा।

कई लोग blog शुरू करते हैं और पहले वर्ष में सफलता की उम्मीद करते हैं। लेकिन दुर्भाग्य से यह केवल बहुत ही कम काम करता है। एक अच्छे blog को परिपक्व बनाने में समय लगता है। आपने जो कुछ भी सीखा है, उसे लागू करने और अपने personal path को खोजने के लिए समय की जरूरत है।

यदि आप management consulting का study करते हैं, तो आप यह भी अपने पहले सेमेस्टर के बाद नहीं जान पाएंगे कि real world में एक real कंपनी की कीमत का evaluation कैसे करें। शायद आपको theory पता होगी, लेकिन practical terms में आप असफल होंगे। लेकिन किसी को भी ऐसी उम्मीद एक नए व्यक्ति से नहीं होती है।

कैसा हो अगर आपने अपने ट्रैवल blog की शुरुआत में खुद को एक फर्स्ट-टाइमर के रूप में देखे हों? शायद आप खुद पर दबाव डालेंगे और अपने आप को सीखने और ज्यादा जानकारी इकट्ठा करने एवं निश्चित रूप से try और error के लिए समय देंगे। क्योंकि आप पूरे समय में जो सीखेंगे, वह incredibly मूल्यवान है – और इसमें सभी गलतियां भी शामिल हैं।

आपके प्रोफेसर मुख्य रूप से आप खुद, दूसरे blogger, ऑनलाइन courses, बुक्स या YouTube वीडियो हैं।

आप अपना खुद का schedule बना सकते हैं। क्योंकि हर किसी की अपनी ताकत कहीं न कहीं होती है। SEO किंग से लेकर Pinterest rock स्टार तक सभी subjects को लेने का भी कोई मतलब नहीं है। शुरुआत में, अपनी ताकत पर ध्यान दें।

हमें उम्मीद है कि हमने आपको blogging की दुनिया का पहला प्रभाव अच्छा दिया है। अब, संकोच न करें, बस शुरू करें – क्योंकि blog शुरू करने का सबसे अच्छा समय हमेशा से ही कल था! क्या हम कुछ important भूल गए हैं? Comments में जरूर बताएं!

Disclosure: इस पोस्ट में एफिलिएट लिंक्स और advertisements हो सकते हैं। आपके लिए इसका कोई additional cost नहीं है। हम केवल उन प्रोडक्ट्स की सलाह देते हैं जो हम खुद इस्तेमाल करते हैं, जिससे हम 100% satisfied रहते हैं या जो कि किसी अनुभवी व्यक्ति द्वारा सुझाया गया है। Advertising और एफिलिएट लिंक्स के माध्यम से हम इस blog को डिजाइन करने और इसे प्यार और कंटेंट्स से भरने का समय पा सकते हैं।

Leave a Comment